loading...

हिचकी रोकने के घरेलु उपाय Home Remedies for Hichki

हिचकी रोकने के घरेलु उपाय

हिचकी रोकने के घरेलु उपाय

HICHKI / HICCUPS को हिंदी में हिचकी कहते है |

हिचकीयां कब आती है?

छाती और पेट के बीच डायफ्राम नाम की मश्पेशी होती है | डायफ्राम छाती और पेट, दोनों हिस्सों को अलग करती है और सांस लेने की प्रक्रिया में मदत करती  है| जब कोई कारण से डायफ्राम सिकुड़ता है, तो फेफड़े तेजी से हवा अंदर खींचते हैं और सांस लेने में तकलीफ होने लगती है, जिससे हिचकी शुरू हो जाती है.

हिचकी आने के कारण:

  • जोर जोर से लगातार हसने से हिचकी आती है |
  • कोई दावा का साइड इफ़ेक्ट |
  • खाना खाते वक़्त ज्यादा बाट करने से |
  • Oily food, मसालेदार तीखा खाना खाने से भी हिचकी आती है |
  • पेट में गैस होने से भी हिचकियाँ आती है |

हिचकी रोकने के घरेलु उपाय Home Remedies for Hichki

  • मूली के दो-चार पते चबाने से भी हिचकियां बंद होती हैं।
  • प्याज काटकर-धोकर और नमक मिलाकर खाने से भी हिचकियों में आराम आता है।
  • दोनों कानों में उंगलियां डालकर कान बन्द कर देने से नसों पर दबाव पड़ता है। इससे कई बार फौरन लाभ होता है।
  • छोटी इलायची चबाकर खाने से भी आराम आता है। चार-पांच छोटी इलायचियां कूटकर पानी में उबालें। पानी की मात्रा आधी रह जाने पर हल्का गरम रहते रोगी को पिलाने से लाभ होता है।
  • जिस व्यक्ति को जोर की हिचकियां आ रही हों, उस समय उसका ध्यान किसी अन्य विषय पर लगा दिया जाए तो हिचकियां आनी एकाएक बन्द हो जाती हैं।
  • अपच से हिचकियां आती हो तो एक गिलास पानी में खाने का चुटकीभर सोडा डालकर पीने से लाभ होता है।
  • गरम दूध पीने से भी हिचकियां रुकती हैं।
  • पानी में नीबू का रस और शहद मिलाकर देने से भी हिचकियां बन्द होती हैं।

अगर आपको hichki तुरंत बंद करना है ये ऊपर दिए हुए हिचकी रोकने के घरेलु उपाय का प्रयोग जरुर कर|

ये भी पढ़े:

Asthma ke gharelu upay Asthma Treatment in Hindi

Oily Skin Care Tips Hindi Ayurvedic Beauty Tips

Dadi Maa ke Gharelu Nuskhe Hindi Home Remedies

Leave a Reply